Home BPSC सिविल सेवा BPSC सफलता की रणनीति BPSC सिविल सेवा परीक्षा में सफलता की रामबाण रणनीति

BPSC सिविल सेवा परीक्षा में सफलता की रामबाण रणनीति

सफलता उसी प्रतियोगी को प्राप्त होती है, जो सफलता के दृढ प्रतिज्ञ तथा समर्पित होता है. BPSC सिविल सर्विसेज परीक्षा की तयारी एक वर्ष पूर्व आरम्भ कर देनी चाहिए. यह समय-सीमा सभी प्रतियोगियों के लिए है, सफलता में समय प्रबंधन का सार्वधिक महत्व होता है. प्रारम्भिक परीक्षा सामान्य अध्ययन, मुख्य परीक्षा अनिवार्य पत्र तथा वैकल्पिक विषय की तैयारी सन्तुलित ढंग से करनी चाहिए, ताकि कोई भी पत्र किसी भी दृष्टि से कमजोर न पद जाए.

सामान्य अध्ययन की तैयारी के लिए पिछले वर्षो के Solved Papers को पढ़कर Pattern को ध्यान में रखते हुए तैयारी आरम्भ करें. सामान्य अध्ययन की तयारी हेतु विषय गत जानकारी के अतिरिक्त नवीनतम Current Affairs से लगातार परिचित रहने के लिए एक-दो समाचार-पत्रों का सूक्ष्म अध्ययन अनिवार्य होगा. राष्ट्रिय, अंतर्राष्ट्रीय , आर्थिक, खेल, पुरस्कार, पुस्तकें तथा वैज्ञानिक खबरों के लिए एक संतुलित English-Hindi Newspaper का दैनिक अध्ययन तैयारी के लिए बहुत जरुरी है. The Hindu, Hindustan, Dainik Jagran, भास्कर उपर्युक्त सभी विषयों के समाचार विश्लेषण संतुलित ढंग से प्रस्तुत करता है.

प्रतियोगी को अपनी सफलता सुनिश्चित करने के लिए कुछ दिन की तैयारी के बाद स्वमूल्यांकन भी करे. इस तरह आपको अपनी कमजोरी पकड़ने का मौका मिलता है और आप उसे दूर करने के लिए निश्चित तौर पर प्रयत्न करेंगे. जिस प्रश्न को आप बनाये उसक स्वयं मुल्यांकन न करे, बल्कि सह-प्रतियोगी को इसका अवसर दे. ऐसा इसलिए जरुरु है, क्योंकि यह मानव स्वाभाव है की व्यक्ति अपनी कमजोरियों पर अधिक ध्यान नहीं देता. इस परीक्षा में सफलता के लिए सामूहिक अध्ययन का विशेष महत्व है. सामूहिक अध्ययन में संशय/संदेह का तत्काल समाधान संभव होता है. प्रतियोगी को अध्ययन के आलावा मानसिक थकन से राहतके लिए मनोरंजन के साधनों का सहारा लेना चाहिए. मधुर संगीत सकारात्मक मनोरंजन का अच्छा साधन है.

हमारा सोशल मीडिया

29,468FansLike
25,786SubscribersSubscribe

Must Read

BPSC APO की 553 भर्ती : 162 उम्मीदवारों की एप्लीकेशन रिजेक्ट, देखें पूरी लिस्ट

बिहार लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने सहायक अभियोजन पदाधिकारी प्रतियोगिता परीक्षा-2019 के उन अभ्यर्थियों की सूची जारी की है जिनके आवेदन किसी न...

ताकि घर के पास मिले रोजगार (हिन्दुस्तान)

अंग्रेज भारत को वनों का महासागर कहते थे। इन पेड़-पौधों को ग्राम और आदिवासी समूहों ने पाला-पोसा था। दादाभाई नौरोजी के शब्दों में...

जरूरी परिपक्वता (हिन्दुस्तान)

राज्यसभा में रक्षा मंत्री ने भारत का पक्ष जिस तरह से पेश किया, उसकी सराहना होनी चाहिए। पड़ोसी देश के प्रति जहां दृढ़ता...

बिहार समाचार (संध्या): 17 सितम्बर 2020 AIR (Bihar News + Bihar Samachar + Bihar Current Affairs)

घर बैठे BPSC परीक्षा की तैयारी: https://definitebpsc.com/ Industrial Dispute in Hindi: https://www.youtube.com/watch?v=y3W56i3zkds हमारा Telegram चैनल - https://t.me/DefiniteBPSC हमारा फेसबुक पेज लाइक करिये -...

Related News

BPSC APO की 553 भर्ती : 162 उम्मीदवारों की एप्लीकेशन रिजेक्ट, देखें पूरी लिस्ट

बिहार लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने सहायक अभियोजन पदाधिकारी प्रतियोगिता परीक्षा-2019 के उन अभ्यर्थियों की सूची जारी की है जिनके आवेदन किसी न...

ताकि घर के पास मिले रोजगार (हिन्दुस्तान)

अंग्रेज भारत को वनों का महासागर कहते थे। इन पेड़-पौधों को ग्राम और आदिवासी समूहों ने पाला-पोसा था। दादाभाई नौरोजी के शब्दों में...

जरूरी परिपक्वता (हिन्दुस्तान)

राज्यसभा में रक्षा मंत्री ने भारत का पक्ष जिस तरह से पेश किया, उसकी सराहना होनी चाहिए। पड़ोसी देश के प्रति जहां दृढ़ता...

बिहार समाचार (संध्या): 17 सितम्बर 2020 AIR (Bihar News + Bihar Samachar + Bihar Current Affairs)

घर बैठे BPSC परीक्षा की तैयारी: https://definitebpsc.com/ Industrial Dispute in Hindi: https://www.youtube.com/watch?v=y3W56i3zkds हमारा Telegram चैनल - https://t.me/DefiniteBPSC हमारा फेसबुक पेज लाइक करिये -...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here