रविवार, फ़रवरी 25, 2024
होमबिहार के अखबारों मेंबिहार के हर जिले और अनुमंडल में बनेंगे वृद्ध आश्रम, मंत्री मदन सहनी ने पटना में दी यह जानकारी

बिहार के हर जिले और अनुमंडल में बनेंगे वृद्ध आश्रम, मंत्री मदन सहनी ने पटना में दी यह जानकारी

समाज कल्याण विभाग के मंत्री मदन सहनी मंगलवार की दोपहर गुलजारबाग स्थित सहारा वृद्धाश्रम पहुंचे। उन्होंने यहां रह रहे 63 वृद्ध पुरुष और 37 वृद्ध महिला से मिलकर उन्हें मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। वृद्धों ने वृद्धाश्रम से बाहर कहीं घूमने ले जाने की इच्छा जताई। इस पर मंत्री ने कहा कि इस संबंध में विभाग के निदेशक से बातचीत कर जल्द ही योजना बनाई जाएगी।

बिहार में अनुमंडल स्‍तर पर बनेंगे वृद्धाश्रम 

मदन सहनी ने कहा कि मुख्यमंत्री की सात निश्चय योजना पार्ट 2 के अंतर्गत वृद्धों के लिए बिहार के सभी अनुमंडल में 50-50 बेड तथा सभी जिले में 50-50 बेड के दो वृद्धाश्रम का निर्माण होगा। यह व्यवस्था नगर आवास विभाग द्वारा संचालित होगी। उन्होंने वृद्धाश्रम में घूम कर सभी व्यवस्था को देखने के बाद कहा कि विभाग नियमित रूप से ऐसे वृद्धाश्रम की व्यवस्था की समीक्षा करता है।

राज्‍य के सभी वृद्धाश्रमों का करेंगे निरीक्षण 

पिछले दिनों ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मैंने सामाजिक सुरक्षा निदेशालय के अधीन चलने वाले इस सहारा वृद्धाश्रम की व्यवस्था को देखा और वृद्धजनों से बातचीत भी की थी। इसके बाद ही मैंने यहां आने की योजना बनाई। मंत्री ने कहा कि समाज कल्याण विभाग के अधीन प्रदेश भर में संचालित होने वाले वृद्ध आश्रमों का भ्रमण कर वहां की व्यवस्था को देखूंगा।

स्‍वास्‍थ्‍य की देखरेख के लिए एएनएम तैनात 

मंत्री ने बताया कि इस आश्रम में रहने वाले वृद्धों के स्वास्थ्य के लिए एएनएम प्रतिनियुक्त है। सप्ताह में डॉक्टर आकर इनके स्वास्थ्य की जांच करते हैं और आवश्यकता पड़ने पर इलाज के लिए इन्हें नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया जाता है। निरीक्षण के दौरान मंत्री के साथ विभाग के सहायक निदेशक हरिशंकर सिंह, जिला सामाजिक सुरक्षा की सहायक निदेशक स्नेहा, हेल्प एज इंडिया के वृद्ध आश्रम व्यवस्थापक डी के सिंह समेत अन्य मौजूद थे।

60 से 90 वर्ष तक के वृद्ध रह रहे

गुलजार बाग स्थित वृद्धाश्रम में 60 वर्ष से लेकर 90 वर्ष तक के वृद्ध रह रहे हैं। इन्हें यहां रहने, खाने, इलाज से लेकर सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती हैं। व्यवस्थापक डीके सिंह ने बताया कि बेसहारा वृद्धों को जिनकी उम्र 60 वर्ष है या वैसे वृद्ध जिनकी आय सालाना 60 हजार से कम है, उन्हें यहां रखा जाता है।

वृद्धाश्रम में हैं ये सभी सुविधाएं 

वृद्धाश्रम में 39 कमरे, 3 बड़े हाल, 12 बाथरूम, 24 शौचालय, 22 स्नानागार, एक रसोईघर, पार्क, सर्वधर्म सभा भवन, योगा भवन, मनोरंजन स्थल उपलब्ध है। वृद्धों के लिए कार्यक्रम आयोजित करने के लिए वृद्धाश्रम में एक सभागार की आवश्यकता है, जिससे विभाग के मंत्री एवं पदाधिकारियों को अवगत कराया गया है।

Source link

सम्बंधित लेख →

लोकप्रिय

hi_INहिन्दी