रविवार, फ़रवरी 25, 2024
होमबिहार के अखबारों मेंस्वच्छता सर्वेक्षण 2022: शौचालय ने गया को बनाया बिहार का सबसे स्वच्छ शहर, सबसे नीचे से इस बार पहुंचा टॉप पर

स्वच्छता सर्वेक्षण 2022: शौचालय ने गया को बनाया बिहार का सबसे स्वच्छ शहर, सबसे नीचे से इस बार पहुंचा टॉप पर

दुर्गा पूजा के बीच गया के लोगों के लिए खुशखबरी है. गया को बिहार का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया है. केंद्रीय शहरी एवं आवास संस्थान के द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 का रिपोर्ट जारी कर दिया गया है. इसमें एक से 10 लाख तक जनसंख्या वाले 400 शहरों की सूची में गया को देश में 179वां रैंक तथा राज्य में प्रथम स्थान मिला है. पिछली बार की तुलना में गया ने 29 रैंक की लंबी छलांग लगाते हुए यह उपलब्धि हासिल की है. बता दें कि पिछले साल स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिंग में गया को 208 रैंक मिला था. इसमें शौचालय ने अहम भूमिका अदा की है.

पिछले साल था निचले पायदान पर, इस बार बिहार में प्रथम स्थान

स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट में एक से 10 लाख तक की आबादी वाले गया शहर के बिहार में प्रथम स्थान पर आने से गया शहरवासी तथा नगर निगम काफी खुश है. नगर आयुक्त अभिलाषा शर्मा ने हर्ष व्यक्त करते हुए गया शहरवासी, नगर निगम के पदाधिकारी, तथा सफाई कर्मचारियों को इसका श्रेय दिया है.

2020 में हुए स्वच्छता सर्वेक्षण में गया सबसे निचले पायदान पर था जिससे शहर की खूब किरकिरी हुई थी. बीते एक वर्ष के दौरान मेयर, डिप्टी मेयर तथा नगर निगम के पदाधिकारी और कर्मचारियों के अथक प्रयास के बाद इसमें सुधार हुआ और 2022 में जारी किए गए स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट में गया को बिहार में प्रथम स्थान मिला है.

150 शौचालय ने दिलाई सबसे अधिक अंक, 280 टन कचरा का बनता है जैविक खाद

नगर आयुक्त अभिलाषा शर्मा ने बताया कि स्वच्छता रैंकिंग में सबसे अधिक अंक सार्वजनिक शौचालय पर मिलता है. गया नगर निगम क्षेत्र में 150 से ज्यादा शौचालयों का निर्माण कराया गया है. साथ ही शहर से प्रतिदिन निकलने वाले 280 टन कचरे का निष्पादन किया जा रहा है. इसका जैविक खाद बनाया जा रहा है. इस बदलाव का परिणाम सबके सामने है. इसको बरकरार रखना हम सभी की जिम्मेदारी है.

Source link

सम्बंधित लेख →

लोकप्रिय

hi_INहिन्दी