रविवार, फ़रवरी 25, 2024
होमबिहार के अखबारों मेंबिहार के रहने वाले प्रोफेसर रामधर सिंह को अमेरिका की पर्ड्यू यूनिवर्सिटी ने विशिष्ट पूर्व छात्र पुरस्कार से सम्मानित किया

बिहार के रहने वाले प्रोफेसर रामधर सिंह को अमेरिका की पर्ड्यू यूनिवर्सिटी ने विशिष्ट पूर्व छात्र पुरस्कार से सम्मानित किया

पर्ड्यू यूनिवर्सिटी के इतिहास में केवल दो मनोवैज्ञानिक ही उनसे पहले हैं, जिन्हें यह सम्मान मिला है. बिहार के रहने वाले प्रोफेसर रामधर सिंह को अमेरिका की पर्ड्यू यूनिवर्सिटी ने विशिष्ट पूर्व छात्र पुरस्कार से सम्मानित किया है. वर्तमान में रामधर सिंह अहमदाबाद विश्वविद्यालय के अमृत मोदी स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में प्रोफेसर हैं. अमेरिका के इंडियाना में स्थित वेस्ट लाफायेट में स्वास्थ्य और मानव विज्ञान कॉलेज ने 25 मार्च को उन्हें यह सम्मान दिया है. रामधर सिंह ने 1961-68 में बिहार यूनिवर्सिटी से मनोविज्ञान की पढ़ाई की है. पटना यूनिवर्सिटी में उन्होंने 1968-73 तक साइकोलॉजी का अध्यापन किया है. इसके बाद उन्होंने 1970-73 के बीच अमेरिका की पर्ड्यू यूनिवर्सिटी से सामाजिक मनोविज्ञान में मास्टर्स और डॉक्टर डिग्री प्राप्त की.

पर्ड्यू यूनिवर्सिटी के इतिहास में केवल दो मनोवैज्ञानिक ही उनसे पहले हैं, जिन्हें यह सम्मान मिला है. वर्तमान में रामधर सिंह अहमदाबाद विश्वविद्यालय के अमृत मोदी स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में प्रोफेसर हैं. पर्ड्यू यूनिवर्सिटी की ओर से सम्मान पाने पर वह कहते हैं, “इस पुरस्कार से सम्मानित होने से मैं एक मनोवैज्ञानिक के रूप में अपनी जीवन यात्रा से पूरी तरह संतुष्ट हूं.”

छात्रों, सहकर्मियों, विशेषज्ञों और प्रोफेशनल मनोविज्ञान संघों ने रिसर्च में बेहतरीन योगदान के लिए प्रोफेसर सिंह की प्रतिबद्धता को स्वीकार किया है. 2009 में, नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर (NUS) के स्नातक छात्रों ने उन्हें एक प्रेरक सलाहकार के रूप में वोट दिया.

अमेरिका की वाशिंगटन डीसी स्थित एसोसिएशन फॉर साइकोलॉजिकल साइंस ने 2013 में दुनिया भर में सबसे प्रभावशाली मनोवैज्ञानिकों की लिस्ट में उन्हें शामिल किया था जो इकलौते भारतीय थे. 2021 में, IIM इंदौर ने उन्हें संगठनों और समाज में मानव व्यवहार के ज्ञान के लिए उनकी प्रतिबद्धता और उनकी खोज के लिए अनुसंधान में उत्कृष्टता के लिए अपना पहला लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया.

इससे पहले प्रोफेसर सिंह IIT कानपुर (1973-79), IIM अहमदाबाद (1979-90), NUS (1988-2010), और IIM बैंगलोर (2010-16) में फैकल्टी रह चुके हैं. प्रोफेसर सिंह लगातार खुद को अपडेट करने के लिए सम्मेलनों में भाग लेने, दुनिया के महत्वपूर्ण संस्थानों में अपने शोध के बारे में बात करने के लिए जाते रहते हैं. प्रोफेसर रामधर सिंह ने प्रबंधन और मनोविज्ञान में प्रायोगिक शोध किया है. उनके शोध मनोविज्ञान और प्रबंधन के शीर्ष अंतरराष्ट्रीय पत्रिकाओं में छप चुके हैं. IIT कानपुर के मानविकी और सामाजिक विज्ञान विभाग ने एशिया में विज्ञान के रूप में मनोविज्ञान और प्रबंधन की उन्नति में प्रोफेसर सिंह के निरंतर योगदान का जश्न मनाने के लिए 2022 में मनोविज्ञान में एक वार्षिक प्रभा और रामधर सिंह विशिष्ट व्याख्यान की आयोजित किया.

Source link

सम्बंधित लेख →

लोकप्रिय

hi_INहिन्दी