Home BPSC मुख्य परीक्षा GS पेपर 1 - भारत का आधुनिक इतिहास

GS पेपर 1 - भारत का आधुनिक इतिहास

नेहरू के सामाजिक राजनैतिक और आर्थिक चिंतन का विवरण दें.

स्वाधीन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री के रूप में आधुनिक भारत के स्वतंत्र विकास की दिशा में जवाहरलाल नेहरू ने काफी कार्य किया जो कि सराहनीय है । शोषण से मुक्त एक नए भारत के निर्माण के लिए और साम्राज्यवाद के उत्पीड़न से मुक्त एक नए विश्व के...

टैगोर के सामाजिक और राजनीतिक चिंतन संबंधी विचार की व्याख्या करें

विश्व साहित्य क्षेत्र में टैगोर का नाम सदैव श्रद्धा के साथ लिया जाता है। उनकी विशेषता थी प्रकृति का सजीव चित्रण एवं जीवन के विभिन्न पहलुओं का मार्मिक वर्णन । वे मानवता के प्रति चिंतित सौंदर्य के प्रेमी थे। वे अत्यधिक सार्वभौमिक विचारशील तथा पूर्व व्यक्तित्व के...

राजनैतिक मुद्दों तथा भारतीय समाज की पुनर्रचना के संबंध में गांधी और नेहरू के विचारों संबंधी अंतर्विरोध की व्याख्या करें।

राजनीतिक मुद्दों तथा भारतीय समाज की पुनर्रचना के संबंध में गांधी और नेहरू के विचारों में मूल अंतर विचारधारा पर आधारित है । जैसे - धर्म को लेकर गांधी और नेहरू के विचारों में मूल अंतर-  गांधीजी धर्म पारायण व्यक्ति थे जबकि...

गांधी जी के राजनीतिक, सामाजिक, नैतिक और अर्थव्यवस्था संबंधी चिंतन का वर्णन करें?

गांधीजी का विश्व राजनीतिक इतिहास में उदय दक्षिण अफ्रीका की भूमि पर हुआ परंतु वास्तविक ऊंचाई भारत के राष्ट्रीय आंदोलन से मिली और वे मानवता के सबसे बड़े पुजारी के रूप में उभरे ना केवल भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के सर्वमान्य नेतृत्व करते थे बल्कि उनका महत्व इस...

लोकप्रिय

गांधी जी के राजनीतिक, सामाजिक, नैतिक और अर्थव्यवस्था संबंधी चिंतन का वर्णन करें?

गांधीजी का विश्व राजनीतिक इतिहास में उदय दक्षिण अफ्रीका की भूमि पर हुआ परंतु वास्तविक ऊंचाई भारत के राष्ट्रीय आंदोलन से मिली और वे मानवता के सबसे बड़े पुजारी के रूप में उभरे ना केवल भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के सर्वमान्य नेतृत्व करते थे बल्कि उनका महत्व इस...

नेहरू के सामाजिक राजनैतिक और आर्थिक चिंतन का विवरण दें.

स्वाधीन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री के रूप में आधुनिक भारत के स्वतंत्र विकास की दिशा में जवाहरलाल नेहरू ने काफी कार्य किया जो कि सराहनीय है । शोषण से मुक्त एक नए भारत के निर्माण के लिए और साम्राज्यवाद के उत्पीड़न से मुक्त एक नए विश्व के...

टैगोर के सामाजिक और राजनीतिक चिंतन संबंधी विचार की व्याख्या करें

विश्व साहित्य क्षेत्र में टैगोर का नाम सदैव श्रद्धा के साथ लिया जाता है। उनकी विशेषता थी प्रकृति का सजीव चित्रण एवं जीवन के विभिन्न पहलुओं का मार्मिक वर्णन । वे मानवता के प्रति चिंतित सौंदर्य के प्रेमी थे। वे अत्यधिक सार्वभौमिक विचारशील तथा पूर्व व्यक्तित्व के...

राजनैतिक मुद्दों तथा भारतीय समाज की पुनर्रचना के संबंध में गांधी और नेहरू के विचारों संबंधी अंतर्विरोध की व्याख्या करें।

राजनीतिक मुद्दों तथा भारतीय समाज की पुनर्रचना के संबंध में गांधी और नेहरू के विचारों में मूल अंतर विचारधारा पर आधारित है । जैसे - धर्म को लेकर गांधी और नेहरू के विचारों में मूल अंतर-  गांधीजी धर्म पारायण व्यक्ति थे जबकि...