Home BPSC सिविल सेवा नोट्स बिहार का परिचय

बिहार का परिचय

बिहार भारत के उत्तर भाग में स्थित एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक राज्य है और इसकी राजधानी पटना है। यह क्षेत्र गंगा नदी तथा उसकी सहायक नदियों के उपजाऊ मैदानों में बसा है। प्राचीन काल में विशाल साम्राज्यों का गढ़ रहा यह प्रदेश, वर्तमान में देश की अर्थव्यवस्था के सामान्य योगदाताओं में से एक बनकर रह गया है।

बिहार राज्य से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

  • राज्य का गठन – 22 मार्च 1912 (बिहार दिवस)
  • राजधानी – पटना 
  • जनसँख्या – 104,099,452
  • क्षेत्रफल – 94,163 वर्ग किमी
  • कुल जिले – 38
  • जनसंख्या की दृष्टि से देश में स्थान – तीसरा 
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से देश में स्थान – 13 वा 
  • राज्य में बोली जाने वाली प्रमुख भाषाएँ – हिंदी, उर्दू, भोजपुरी, मैथिलि, मगही , अंगिका आदि 
  • अक्षांस –  21°58’10” से 27°31’15” उत्तरी अक्षांश
  • देशांतर – 82°19’50” से  88°17’40” पूर्वी देशांतर
  • राज्य की सीमा से लगे देश – नेपाल 
  • राज्य की सीमा से लगे राज्य – उत्तर प्रदेश , झारखण्ड और पश्चिम बंगाल 
  • उच्च न्यायालय – पटना
  • राजकीय भाषा – हिंदी
  • द्वितीय राजकीय भाषा – उर्दू
  • राजकीय पशु – बैल
  • राजकीय पक्षी – गौरेया
  • राजकीय पुष्प – गेंद फूल
  • राजकीय वृक्ष – पीपल
  • राजकीय चिन्ह – बोधि वृक्ष
  • राजकीय मछली –मांगुर
  • राज्य का महापर्व – छठ

बिहार का इतिहासिक परिचय

बिहार शब्द की उत्पत्ति संस्कृत और पाली भाषा के शब्द “विहार” से हुई जिसका अर्थ है निवास. बिहार नाम का प्रादुर्भाव बौद्ध सन्यासियों के ठहरने के स्थान विहार शब्द से हुआ, जिसे विहार के स्थान पर इसके अपभ्रंश रूप बिहार से संबोधित किया जाता है। प्राचीन काल में बिहार में बहुत से बौध भिक्षुओ का निवास हुआ करता था.

बिहार की स्थापना 22 मार्च, 1912 को बंगाल से विभाजन के बाद हुआ। यहाँ की राजधानी पटना तथा बिहार का सबसे बड़ा शहर भी पटना ही है। बिहार की राजधानी पटना का ऐतिहासिक नाम पाटलिपुत्र है।

2600 साल पहले बिहार को सबसे ज्यादा शांतिप्रिय यानी अहिंसा प्रिय भूमि कहा जाता था। बोधगया और पावापुरी में लोग शांति प्राप्त करने के लिये आते थे और आज भी आते हैं। प्राचीन काल में मगध का साम्राज्य देश के सबसे शक्तिशाली साम्राज्यों में से एक था। यहाँ से मौर्य वंश, गुप्त वंश तथा अन्य कई राजवंशों ने देश के अधिकतर हिस्सों पर राज किया।

छठी और पांचवीं सदी ईसा पूर्व में यहां बौद्ध तथा जैन धर्मों का उद्भव हुआ। बाद में बौद्ध धर्म चीन तथा उसके रास्ते जापान तक पहुंच गया।

बारहवीं सदी में बख्तियार खिलजी ने बिहार पर अपना आधिपत्य जमा लिया। जब शेरशाह सूरी ने, सोलहवीं सदी में दिल्ली के मुगल बाहशाह हुमायूँ को हराकर दिल्ली की सत्ता पर कब्जा किया तब बिहार का नाम पुनः प्रकाश में आया पर यह अधिक दिनों तक नहीं रह सका।

पुरातन काल में बिहार देश की व्यापारिक राजधानी हुआ करती थी। तब देश का 40 फीसदी व्यापार सिर्फ मगध, वैशाली, मिथ‍िला, विदेहा, अंग, साक्य प्रदेश, विज्जी, जनका से हुआ करता था। पुरातन काल में संस्कृति और सत्ता के बारे में अध्ययन करने के लिये दुनिया भर से लोग यहां आया करते थे।

अकबर ने बिहार पर कब्जा करके बिहार का बंगाल में विलय कर दिया। इसके बाद बिहार की सत्ता की बागडोर बंगाल के नवाबों के हाथ में चली गई। बिहार का अतीत गौरवशाली रहा है।

1912 में बंगाल का विभाजन के फलस्वरूप बिहार नाम का राज्य अस्तित्व में आया। 1936 में उड़ीसा इससे अलग कर दिया गया।

स्वतंत्रता संग्राम के दौरान बिहार के चंपारण के विद्रोह को, अंग्रेजों के खिलाफ बग़ावत फैलाने में अग्रगण्य घटनाओं में से एक गिना जाता है।

स्वतंत्रता के बाद बिहार का एक और विभाजन हुआ और सन् 2000 में झारखंड राज्य इससे अलग कर दिया गया।

नोट:- उदयन ने पाटलिपुत्र (आधुनिक पटना) नगर की स्थापना की थी । बिहार पर राजधानी सबसे प्रथम बार विजय पाने वाला मुस्लिम शासक मोहम्मद-बिन-बख्तियार खिलजी था ।

बिहार की भौगोलिक परिचय

बिहार का कुल क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किमी है यह क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का 13 वां सबसे बड़ा राज्य है. बिहार की कुल जनसँख्या 104,099,452 है यह जनसंख्या की दृष्टि से देश का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है. बिहार की सीमा एक देश व भारत के तीन राज्यों को स्पर्श करती है इसके उत्तर में नेपाल पूर्व में पश्चिम बंगाल, पश्चिम में उत्तर प्रदेश तथा दक्षिण में झारखण्ड है. बिहार के दक्षिण में स्थित राज्य झारखण्ड का गठन 15 नवम्बर 2000 को बिहार से अलग करके किया गया.

बिहार में हिन्दू 83.2 % हैं तथा मुस्लिम 16.5 % है।

  • बिहार भारत के पूर्व में स्थित है इसका अशंशीय विस्तार  21°58’10” से 27°31’15” उत्तरी अक्षांश व देशंतारिया विस्तार 82°19’50” से  88°17’40” पूर्वी देशांतर के मध्य है 
  • बिहार की सीमा एक देश व भारत के तीन राज्यों को स्पर्श करती है इसके उत्तर में नेपाल पूर्व में पश्चिम बंगाल , पश्चिम में उत्तर प्रदेश तथा दक्षिण में झारखण्ड स्थित है 
  • बिहार का कुल क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किमी है यह क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का 13 वां सबसे बड़ा राज्य है 
  • बिहार की उत्तर से दक्षिण तक लम्बाई 345 किमी व पूर्व से पश्चिम तक अधिकतम चौड़ाई 483 किमी है 
  • बिहार राज्य की समुद्र तल से औसत ऊंचाई लगभग 173 फीट है 
  • गंगा नदी बिहार को दो भागो में बांटती है जिन्हें गंगा का दक्षिणी क्षेत्र व गंगा का उत्तरी क्षेत्र कहा जाता है
  • अक्षांशीय विस्तार – 24° 20′ 50”से 27° 31′ 15” उत्तरी अक्षांश
  • देशांतरीय विस्तार – 83° 19′ 50”से 88° 17′ 40” पूर्वी देशांतर
  • आकृति – आयताकार
  • क्षेत्रफल – 94163 वर्ग किलो मी .
  • लंबाई (उत्तर से दक्षिण )-345 किमी
  • चौड़ाई -(पूर्व से पश्चिम) –483 किमी
  • औसत ऊंचाई – समुद्र तट से 52 .73 मी.

बिहार का राजनैतिक परिचय

बिहार में विधानसभा की 243, राज्यसभा की 16 तथा लोकसभा की 40 सीटें है।

  • लोक सभा सदस्यों की संख्या – 40
  • लोक सभा में अनुसूचित जाति की आरक्षित सीटें –6 (गोपाल गंज ,हाजीपुर ,समस्तीपुर ,जमुई ,गया तथा सासाराम )
  • राज्य सभा में सदस्यों की संख्या -16
  • विधान सभा में सदस्यों की संख्या – 243
  • विधानसभा में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीटें – 38
  • विधानसभा में अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित सीटें – 02 (कटोरियां एवं मनिहारी )
  • विधानपरिषद सदस्यों की संख्या – 75
  • बिहार में प्रमंडलों की संख्या – 9 पटना , मगध , सारण,तिरहुत , कोसी , दरभंगा ,पुर्णिया,भागलपुर तथा मुंगेर |
  • बिहार में जिलों की संख्या – 38
  • अनुमंडलों की संख्या – 101
  • प्रखंडों की संख्या –534
  • राजस्व ग्रामों की कुल संख्या – 45098
  • शहरों की संख्या – 139
  • नगर समूह की संख्या –14
  • एक लाख से अधिक जनसँख्या वाले नगरों की संख्या – 19
  • महानगर – 1 पटना
  • नगर निगम की कुल संख्या – 11
  • नगर पंचायतों की कुल संख्या – 86
  • नगर परिषदों की कुल संख्या – 42

हमारा सोशल मीडिया

29,468FansLike
25,786SubscribersSubscribe

Must Read

BPSC APO की 553 भर्ती : 162 उम्मीदवारों की एप्लीकेशन रिजेक्ट, देखें पूरी लिस्ट

बिहार लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने सहायक अभियोजन पदाधिकारी प्रतियोगिता परीक्षा-2019 के उन अभ्यर्थियों की सूची जारी की है जिनके आवेदन किसी न...

ताकि घर के पास मिले रोजगार (हिन्दुस्तान)

अंग्रेज भारत को वनों का महासागर कहते थे। इन पेड़-पौधों को ग्राम और आदिवासी समूहों ने पाला-पोसा था। दादाभाई नौरोजी के शब्दों में...

जरूरी परिपक्वता (हिन्दुस्तान)

राज्यसभा में रक्षा मंत्री ने भारत का पक्ष जिस तरह से पेश किया, उसकी सराहना होनी चाहिए। पड़ोसी देश के प्रति जहां दृढ़ता...

बिहार समाचार (संध्या): 17 सितम्बर 2020 AIR (Bihar News + Bihar Samachar + Bihar Current Affairs)

घर बैठे BPSC परीक्षा की तैयारी: https://definitebpsc.com/ Industrial Dispute in Hindi: https://www.youtube.com/watch?v=y3W56i3zkds हमारा Telegram चैनल - https://t.me/DefiniteBPSC हमारा फेसबुक पेज लाइक करिये -...

Related News

BPSC APO की 553 भर्ती : 162 उम्मीदवारों की एप्लीकेशन रिजेक्ट, देखें पूरी लिस्ट

बिहार लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने सहायक अभियोजन पदाधिकारी प्रतियोगिता परीक्षा-2019 के उन अभ्यर्थियों की सूची जारी की है जिनके आवेदन किसी न...

ताकि घर के पास मिले रोजगार (हिन्दुस्तान)

अंग्रेज भारत को वनों का महासागर कहते थे। इन पेड़-पौधों को ग्राम और आदिवासी समूहों ने पाला-पोसा था। दादाभाई नौरोजी के शब्दों में...

जरूरी परिपक्वता (हिन्दुस्तान)

राज्यसभा में रक्षा मंत्री ने भारत का पक्ष जिस तरह से पेश किया, उसकी सराहना होनी चाहिए। पड़ोसी देश के प्रति जहां दृढ़ता...

बिहार समाचार (संध्या): 17 सितम्बर 2020 AIR (Bihar News + Bihar Samachar + Bihar Current Affairs)

घर बैठे BPSC परीक्षा की तैयारी: https://definitebpsc.com/ Industrial Dispute in Hindi: https://www.youtube.com/watch?v=y3W56i3zkds हमारा Telegram चैनल - https://t.me/DefiniteBPSC हमारा फेसबुक पेज लाइक करिये -...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here