Home बिहार के अखबारों में Bihar Industry : बिहार के उद्योगों की तस्वीर बदलने का फार्मूला, बताया ऐसे बदलेगी युवाओं की तकदीर

Bihar Industry : बिहार के उद्योगों की तस्वीर बदलने का फार्मूला, बताया ऐसे बदलेगी युवाओं की तकदीर

0
Bihar Industry : बिहार के उद्योगों की तस्वीर बदलने का फार्मूला, बताया ऐसे बदलेगी युवाओं की तकदीर

बिहार के उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ ने कहा है कि संपूर्ण बिहार में उद्योग को बढ़ावा देकर रोजगार के अवसर मुहैया कराया जाएगा। पहले चरण में 10 हजार छोटे उद्योग लगाने का लक्ष्य रखा गया है। उनमें तीन हजार पांच सौ महिलाओं को प्राथमिकता मिलेगी। उन्होंने कहा कि कोसी और मिथिलांचल में मखाना की खेती अधिक होती है। किसानों को उपज का उचित मूल्य मिलेगा। इसके लिए एपीआर एग्रो इंडस्ट्रीज मील का पत्थर साबित होगा।

बिहार सरकार में राजद कोटे के उद्योग मंत्री समीर महासेठ ने बिहार के उद्योगों को बढ़ावा देने की बात की है। उन्‍होंने उद्योगों की तस्‍वीर बदलने का फार्मूला भी दिया है। उन्‍होंने अपील की है कि बिहार के लोग बिहार में उत्‍पादित सामानों की ही खरीदारी करें। मंत्री ने कहा है कि अकुशल मजदूरों को स्थानीय स्तर पर ही छोटे-छोटे उद्योगों के जरिए काम मुहैया कराया जाएगा। उद्योग मंत्री ने लोगों से अपील किया कि बिहार को विकसित करने के लिए बिहार में उत्पादित समान खरीदें। बिहार के उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ ने कहा है कि संपूर्ण बिहार में उद्योग को बढ़ावा देकर रोजगार के अवसर मुहैया कराया जाएगा।

10 हजार छोटे उद्योग लाकर बदलेंगे बिहार की तकदीर
पहले चरण में दस हजार छोटे उद्योग लगाने का लक्ष्य रखा गया है। उनमें तीन हजार पांच सौ महिलाओं को प्राथमिकता मिलेगी। उन्‍होंने राजपुर में उद्योग विभाग की ओर से अनुदानित कोसी के पहले मखाना प्रोसेसिंग यूनिट का उद्घाटन किया। उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने यह घोषणा की कि इससे बिहार के असंगठित मजदूरों की किस्‍मत बदल जाएगी। क्योंकि लोगों को रोजगार का अवसर मिलेगा और राज्य की उत्पादकता में भी इजाफा होगा। महासेठ ने एपीआर एग्रो इंडस्ट्रीज की डायरेक्टर प्रीति गोपाल की सराहना करते कहा मखाना प्रोसेसिंग यूनिट से महिलाओं में आत्मविश्वास पैदा होगा। उन्होंने कहा कि कोसी और मिथिलांचल में मखाना की खेती अधिक होती है। किसानों को उपज का उचित मूल्य मिलेगा। इसके लिए एपीआर एग्रो इंडस्ट्रीज मील का पत्थर साबित होगा।

दिव्‍यांगों को भी जोड़ने की योजना
उद्योग मंत्री समीर महासेठ ने कहा कि मखाना उद्योग से दिव्यांगों को जोड़ने की कार्ययोजना बनाई जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार वैसे लोगों को उद्योग लगाने के प्रति जागरूक करेगा जो नहीं कर पा रहे हैं। इसके लिए उन्होंने उद्योग विभाग के जीएम से इंडस्ट्रियल क्रॉप की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। उद्योग मंत्री ने कहा कि अकुशल मजदूरों को स्थानीय स्तर पर छोटे छोटे उद्योग से काम मुहैया कराया जाएगा। उद्योग मंत्री महासेठ उन्होंने कहा कि बेहतर गुणवत्ता का प्रोडक्ट बिहार में होगा। समारोह में एपीआर एग्रो इंडस्ट्रीज की डायरेक्टर प्रीति गोपाल, दिगंबर प्रसाद यादव, एसपी राजेश कुमार मौजूद थे।

Source link