Home BPSC सिविल सेवा BPSC सिविल सेवा परीक्षा का सम्पूर्ण सिलेबस

BPSC सिविल सेवा परीक्षा का सम्पूर्ण सिलेबस

प्रारंभिक परीक्षा पाठ्यक्रम

सामान्य विज्ञान, राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएँ, भारत का इतिहास तथा बिहार के इतिहास की प्रमुख विशेषतायें, सामान्य भूगोल, बिहार के प्रमुख भौगोलिक प्रभाग तथा यहाँ की महत्वपूर्ण नदियाँ, भारत की राजव्यवस्था और अर्थव्यवस्था, आजादी के पश्चात बिहार की अर्थव्यवस्था में प्रमुख परिवर्तन, भारत का राष्ट्रीय आन्दोलन तथा इसमें बिहार का योगदान एवं सामान्य मानसिक योग्यता को जांचने वाले प्रश्न.

मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम

सामान्य हिन्दी

सामान्य हिंदी में प्रश्न बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के माध्यमिक (Secondary) स्तर के होंगे. इस परीक्षा में सरल हिन्दी में अपने भावों को स्पष्टतः एवं शुद्ध रूप में व्यक्त करने की क्षमता और सहज बोध शक्ति की जांच समझी जाएगी.

अंको का विवरण

  1. निबंध – 30 अंक
  2. व्याकरण – 30 अंक
  3. वाक्य विन्यास – 25 अंक
  4. संक्षेपण – 15 अंक

सामान्य अध्ययन – I

  1. भारत का आधुनिक इतिहास और भारतीय संस्कृति.
  2. राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय महत्व का वर्तमान घटना चक्र.
  3. सांख्यिकी विश्लेषण आरेखन और चित्रण.

इस पत्र में आधुनिक भारत (तथा बिहार के विशेष सन्दर्भ में) के इतिहास और भारतीय संस्कृति के अंतर्गत लगभग 19वीं शताब्दी के मध्य भाग से लेकर देश के इतिहास की रूप रेखा के साथ-साथगाँधी, रविन्द्र और नेहरु से सम्बंधित प्रश्न भी सम्मलित होंगे. बिहार के आधुनिक इतिहास के सन्दर्भ में प्रश्न इस क्षेत्र में पाश्चत्य शिक्षा (प्रौद्योगिकी शिक्षा समेत) के आरम्भ और विकास से पूछे जायेंगे. इसमें भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में बिहार की भूमिका से सम्बंधित प्रश्न रहेंगे. ये प्रश्न मुख्यतः संथाल विद्रोह, बिहार में 1857 का बिरसा मुंडा आन्दोलन, चम्पारण सत्याग्रह तथा 1942 का भारत छोड़ो आन्दोलन से पूछे जायेंगे.

परिक्षार्थियो से आशा की की जाती है की वे मौर्य काल तथा पाल कल की कला और पटना कलम चित्रकला की मुख्य विसेश्ताओं से परिचित होंगे. सांख्यिकीय विश्लेषण आरेखन और सचित्र निरूपण से सम्बन्धित विषयों में सांख्यिकीय आरेखन या चित्रात्मक रूप से प्रस्तुत सामग्री की जानकारी के आधार पर सहज बुद्धि का प्रयोग करते हुए कुछ निष्कर्ष निकालना और उसमे पाई गई कमियों, सीमाओं और असंगतियों का निरूपण करने की क्षमता की परीक्षा होगी.

सामान्य अध्ययन – II

  1. भारतीय राजव्यवस्था
  2. भारतीय अर्थव्यवस्था और भारत का भूगोल
  3. भारत के विकास में विज्ञान और प्रौद्योगिकी की भूमिका और प्रभाव.

इस पत्र में भारतीय राज्यव्यवस्था से सम्बंधित खण्ड में भारत की (तथा बिहार की ) राजनीतिक व्यवस्था से सम्बंधित प्रश्न होंगे. भारतीय अर्थव्यवस्था और भारत तथा बिहार के भूगोल से सम्बंधित खण्ड में भारत की योजना और भारत के भौतिक, आर्थिक और सामाजिक भूगोल से सम्बंधित प्रश्न पूछे जायेंगे. भारत के विकास में विज्ञानं और प्रौद्योगिकी के महत्व और प्रभाव से सम्बंधित तीसरे खण्ड में ऐसे प्रश्न पुहे जायेंगे, जो भारत तथा बिहार में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के महत्व के बारे में उम्मीदवार की जानकारी की परीक्षा करे. इनमे प्रायोगिक पक्ष पर बल दिया जायेगा.

ऐच्छिक विषयों के पाठ्यक्रम

क्र.सं.विषय (Subject)
1.कृषि विज्ञान (Agriculture)→ पाठ्यक्रम
2.पशुपालन तथा चिकित्सा विज्ञान (Animal Husbandry & Veterinary Science)→ पाठ्यक्रम
3.मानव विज्ञान (Anthropology) → पाठ्यक्रम
4.वनस्पति विज्ञान (Botany) → पाठ्यक्रम
5.रसायन विज्ञान (Chemistry) → पाठ्यक्रम
6.सिविल इंजीनियरिंग (Civil Engineering) → पाठ्यक्रम
7.वाणिज्यिक शास्त्र तथा लेखा विधि (Commerce & Accountancy) → पाठ्यक्रम
8.अर्थशास्त्र (Economics) → पाठ्यक्रम
9.विधुत इंजीनियरिंग (Electrical Engineering) → पाठ्यक्रम
10.भूगोल (Geography) → पाठ्यक्रम
11.भूविज्ञान (Geology) → पाठ्यक्रम
12.इतिहास (History) → पाठ्यक्रम
13.श्रम एवं समाज कल्याण (labour and Social Welfare) → पाठ्यक्रम
14.विधि (Law) → पाठ्यक्रम
15.प्रबंधन (Management) → पाठ्यक्रम
16.गणित (Mathematics) → पाठ्यक्रम
17.यांत्रिक इंजीनियरिंग (Mechanical Engineering) → पाठ्यक्रम
18.दर्शन शास्त्र ( Philosophy) → पाठ्यक्रम
19.भौतिकी (Physics) → पाठ्यक्रम
20.राजनीति विज्ञान तथा अन्तर्राष्ट्रीय सम्बन्ध (Political Science and Internationals Relations) → पाठ्यक्रम
21.मनोविज्ञान (Psychology) → पाठ्यक्रम
22.लोक प्रशासन (Public Administration) → पाठ्यक्रम
23.समाज शास्त्र (Sociology) → पाठ्यक्रम
24.सांख्यिकी (Statics) → पाठ्यक्रम
25.प्राणी विज्ञान (Zoology) → पाठ्यक्रम
26.हिन्दी भाषा और साहित्य (Hindi Language & Literature) → पाठ्यक्रम
27.अंग्रेजी भाषा और साहित्य (English Language & Literature) → पाठ्यक्रम
28.उर्दू भाषा और साहित्य (Urdu Language & Literature) → पाठ्यक्रम
29.बंगला भाषा और साहित्य ( Bangla Language & Literature) → पाठ्यक्रम
30.संस्कृत भाषा और साहित्य (Sanskrit Language & Literature) → पाठ्यक्रम
31.फारसी भाषा और साहित्य (Persian Language & Literature) → पाठ्यक्रम
32.अरबी भाषा और साहित्य (Arabic Language & Literature) → पाठ्यक्रम
33.पाली भाषा और साहित्य (Pali Language & Literature) → पाठ्यक्रम
34.मैथली भाषा और साहित्य (Maithili Language & Literature) → पाठ्यक्रम

हमारा टेलीग्राम चैनल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

मैक्स वेबर द्वारा धर्म का सिद्धांत (Max Weber’s Doctrine of Religion)

मैक्स वेबर ने धर्म का सूक्ष्म एवं वैज्ञानिक तरीके से अध्ययन किया है। इनके अध्ययन के पश्चात ही समाजशास्त्र में धर्म का अध्ययन गहराई से किया जाने लगा और अंततः "धर्म के समाजशास्त्र (sociology of religion)" ने समाजशास्त्र के अंतर्गत एक स्वतंत्र शाखा के रूप में जन्म...

Important Notice: Invitation of Objection to Answers of 66th Combined (Preliminary) Competitive Re-Examination held on 14th February, 2021.

Important Notice: Invitation of Objection to Answers of 66th Combined (Preliminary) Competitive Re-Examination held on 14th February, 2021. : http://bpsc.bih.nic.in/Advt/NB-2021-02-25-01.pdf

[सिलेबस] मैथिली भाषा और साहित्य (वैकल्पिक विषय)

बिहार लोक सेवा आयोग मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम - मैथिली भाषा और साहित्य (वैकल्पिक विषय) खण्ड- I (Section - I)भाग- 01. मैथिली भाषाक इतिहासः-(1) मैथिली भाषाक उद्गम।(2) भारोपीय भाषा परिवार में मैथिलीक स्थान।(3) मैथिली भाषाक ऐतिहासिक विकासक्रम।(4) हिन्दी, बंगला, भोजपुरी, मगही एवम् संथाली भाषाक संग...

गांधी जी के राजनीतिक, सामाजिक, नैतिक और अर्थव्यवस्था संबंधी चिंतन का वर्णन करें?

गांधीजी का विश्व राजनीतिक इतिहास में उदय दक्षिण अफ्रीका की भूमि पर हुआ परंतु वास्तविक ऊंचाई भारत के राष्ट्रीय आंदोलन से मिली और वे मानवता के सबसे बड़े पुजारी के रूप में उभरे ना केवल भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के सर्वमान्य नेतृत्व करते थे बल्कि उनका महत्व इस...