Home बिहार - अखबारों में NRI बिहारियों से बोले नीतीश कुमार- बिहार कर रहा तरक्की, बस इंडस्ट्री...

NRI बिहारियों से बोले नीतीश कुमार- बिहार कर रहा तरक्की, बस इंडस्ट्री की कमी, आप सहयोग कीजिए

  • दुनियाभर में रह रहे प्रवासी बिहारियों से ऑनलाइन मुखातिब हुए नीतीश कुमार
  • NRI बिहारियों से बिहार के विकास की मुख्यमंत्री नीतीश ने की चर्चा, कहा- राज्य में बढ़ी प्रति व्यक्ति आय
  • राजगीर के ग्लास ब्रिज की आज हो रही सभी जगह चर्चा: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सभी लोग जानते हैं कि बिहार के कई लोग अमेरिका में रहते हैं और अच्छा काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज सभी लोगों से मिलकर खुशी हो रही है। उन्होंने कहा कि बिहार में तरक्की हो रही है। बिहार में प्रति व्यक्ति आय में भी वृद्धि हुई है। नीतीश कुमार ने कहा कि आज बिहार के उन गांव के बारे में लोगों को पता है जिनके बारे में किसी को पता नहीं था क्योंकि हमारी सरकार ने उन गांव को भी पक्की सड़क से जोड़ दिया है।

नीतीश कुमार, शनिवार 16 जनवरी को दुनियाभर में रह रहे प्रवासी बिहारियों से ऑनलाइन मुखातिब हुए। यह संवाद भारतीय समय के अनुसार शाम 7.30 बजे शुरू हुआ। इस संवाद का आयोजन बिहार-झारखंड एसोसिएशन ऑफ नार्थ अमेरिका ने न्यूयार्क स्थित कन्सूलेट जेनरल ऑफ इंडिया के सहयोग से किया गया।

राजगीर के ग्लास ब्रिज की आज हो रही सभी जगह चर्चा: मुख्यमंत्री
राजगीर में चल रहे विकास कार्यों की चर्चा करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि राजगीर में दो सफारी बन रही हैं, एक जू सफारी और एक नेचर सफारी। इस काम को देखने के लिए हम जाते रहे हैं। सीएम ने कहा कि राजगीर में हमने ग्लास ब्रिज बनवाया है। ऐसा भारत में कहीं नहीं है। इसकी चर्चा पूरे देश में हुई। सीएम ने कहा कि आप लोग भी आइए, आपको भी दिखाएंगे। हम वहां एक गेस्ट हाउस भी बनवा रहे हैं। ताकि विदेश से अगर 100 लोग भी आ जाएं तो उन्हें वहां रुकने में दिक्कत न हो। बाद में इसे एक होटल का रूप दिया जाएगा।

बिहार में बन रहे आधुनिक भवन: नीतीश कुमार
नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में आज हमने आधुनिक भवन का निर्माण कराया है। सरदार पटेल भवन बनवाया है जो 9 रिक्टर स्केल के भूकंप को भी झेल लेगा। हम टूरिज्म को बढ़ावा दे रहे हैं। स्कूल-कॉलेज बनवा रहे हैं।

आपके सहयोग से बिहार में इंडस्ट्री की कमी को दूर कर पाएंगे: सीएम नीतीश
सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना के दौर में हमारे बिहार के जो लोग अन्य प्रदेशों में फंसे थे, वो वापस आए तो उनके लिए हमने नई पॉलिसी बनाई है। उन्हें काम दिलाया और कहा कि अगर आप यहां रह कर काम कर सकते हो करो, सरकार उनकी पूरी मदद करेगी। आज वो बिहार में रह कह ही काम कर रहे हैं। लेकिन आज भी बिहार में इंडस्ट्री की बहुत कमी है। अब हमें आप लोगों से बात करके भरोसा हो गया है कि हम सब क्षेत्र में काम कर पाएंगे और इंडस्ट्री की कमी को भी दूर कर पाएंगे। हम चाहते हैं कि आप लोग बिहार में इंडस्ट्री को बढ़ावा दिलवाइए।

Source link

हमारा टेलीग्राम चैनल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बिहार के राज्यपाल (1947 से अब तक)

बिहार के प्रथम राज्यपाल से वर्तमान राज्यपाल की लिस्ट – राज्यपालकार्यकालजयराम दास दौलतराम15 अगस्त 1947 – 11 जनवरी 1948माधव श्रीहरि अणे12 जनवरी 1948 – 14 जून 1952रंगनाथ रामचंद्र दिवाकर15 जून 1952 – 05 जुलाई 1957डॉ. जाकिर हुसैन06 जुलाई 1957 – 11 मई 1962मधभूसी...

बिहार में पहली बार ईवीएम के सहारे होंगे पंचायत चुनाव, एक ही मशीन से डाले जाएंगे छह वोट

बिहार पंचायत चुनाव में पहली बार ईवीएम (EVM) के इस्‍तेमाल का रास्‍ता साफ हो गया है। सरकार ने राज्‍य निर्वाचन पदाधिकारी के प्रस्‍ताव पर अपनी सहमति दे दी है। पंचायत चुनाव के लिए  खास किस्‍म की मल्‍टी पोस्‍ट ईवीएम (Multi Post EVM) का इस्‍तेमाल किया जाएगा। इस ईवीएम के...

बिहार के मुख्यमंत्री (1946 से अब तक)

बिहार के मुख्यमंत्रियों की लिस्ट स्वतंत्रता के पहले से अब तक – स्वतंत्रता से पहले बिहार के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्रीकार्यकाल1मोहम्मद यूनुस01 अप्रैल 1937 – 19 जुलाई 19372श्री कृष्ण सिंह20 जुलाई 1937 – 31 अक्टूबर 19393श्री कृष्ण सिंह02 अप्रैल 1946 – 28...

[सिलेबस] फारसी भाषा और साहित्य (वैकल्पिक विषय)

बिहार लोक सेवा आयोग मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम - फारसी भाषा और साहित्य (वैकल्पिक विषय) खण्ड- I (Section - I) 1. (अ) फारसी भाषा का उद्भव और विकास (रूप रेखा)(आ) फारसी के व्याकरण, काव्य शास्त्र और पिंगल की प्रमुख...