Friday, December 4, 2020
Home बिहार - अखबारों में बिहार में 5 सीटें जीतकर उलटफेर करने वाली ओवैसी की पार्टी AIMIM...

बिहार में 5 सीटें जीतकर उलटफेर करने वाली ओवैसी की पार्टी AIMIM को सता रहा विधायकों के टूटने का डर, उठाया ये कदम

पटना
बिहार चुनाव में एनडीए की जीत के बाद नीतीश कुमार के नेतृत्व में नई सरकार के गठन की तैयारियां जोरों पर है। एनडीए विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद नीतीश कुमार आज सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वहीं बिहार विधानसभा चुनाव में बड़ा उलटफेर करने वाली असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम कुछ परेशान है। ऐसा इसलिए क्योंकि पार्टी को जीतकर आए विधायकों के टूटने का डर सता रहा है। यही वजह है पार्टी ने ऐसी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए बेहद संभले हुए अंदाज में जरूरी कदम उठाया है।

AIMIM ने हैदराबाद शिफ्ट किए अपने विधायक
AIMIM ने बिहार के चुनावी रण में जीतकर आए विधायकों को हैदराबाद में शिफ्ट कर दिया है। इसके पीछे मुख्य वजह यही मानी जा रही कि पार्टी को अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है। ऐसे में पार्टी कोई जोखिम नहीं लेना चाहती। इस बीच हैदराबाद में पार्टी विधायकों से अकबरुद्दीन ओवैसी ने मुलाकात की है। साथ ही उन्होंने बिहार में पार्टी के प्रदर्शन पर खुशी जताते हुए कहा कि पार्टी दूसरे राज्यों में भी अपनी पकड़ मजबूत करेगी।

इसे भी पढ़ें:- नीतीश कुमार के शपथ में टूट जाएगी 30 साल पुरानी परंपरा

विधायकों के टूटने का डर तो पार्टी ने लिया फैसला
बिहार में AIMIM ने जिस तरह से सभी को चौंकाते हुए 5 सीटें जीती उससे पार्टी के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी बेहद उत्साहित नजर आए। उन्होंने कहा कि पार्टी देश के दूसरे राज्यों में भी चुनावी रण में उतरेगी। उन्होंने पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश में उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है। भले ही AIMIM अध्यक्ष दूसरे राज्यों में पार्टी को मजबूत करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन बिहार में जीतने वाले विधायकों लेकर पार्टी थोड़ा आशंकित है।

तेजस्वी की हार का जिम्मेदार कहा, तो ओवैसी ने तगड़ा जवाब दिया

बिहार में NDA को 125, महागठबंधन को आई 110 सीटें
दरअसल, बिहार चुनाव में इस बार सत्ताधारी एनडीए और आरजेडी के नेतृत्व वाले महागठबंधन में कांटे की टक्कर देखने को मिली थी। एनडीए को 125 सीटें यानी बहुमत से 3 सीटें ज्यादा आई हैं। दूसरी ओर महागठबंधन को 110 सीटें आई हैं। इस चुनाव में बिहार की आवाम ने जिस तरह से अपना जनादेश दिया है उसमें सभी सियासी दल बेहद सधे अंदाज में आगे बढ़ रहे हैं। खास तौर से विपक्षी पार्टियां अपने विधायकों को संभालने में जुटी हुई हैं। यही वजह है कि एआईएमआईएम ने अपने विधायकों को हैदराबाद बुला लिया है।

Source link

हमारा टेलीग्राम चैनल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बिहार प्रभात समाचार : 27 नवम्बर 2020 AIR (Bihar News + Bihar Samachar + Bihar Current Affairs)

घर बैठे BPSC परीक्षा की तैयारी: https://definitebpsc.com/ Industrial Dispute in Hindi: https://www.youtube.com/watch?v=y3W56i3zkds हमारा Telegram चैनल - https://t.me/DefiniteBPSC हमारा फेसबुक पेज लाइक करिये - https://www.facebook.com/definitebpsc/ इन्टरनेट से किताबें यहाँ से लें - https://amzn.to/2JS0YJI केवल गंभीर परीक्षार्थियों के लिये. ध्यान से सुनिये और नोट्स बना लें. न्यूज़ को 3 से...

[सिलेबस] श्रम एवं समाज कल्याण (वैकल्पिक विषय)

बिहार लोक सेवा आयोग मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम - श्रम एवं समाज कल्याण (वैकल्पिक विषय) खण्ड- I (Section - I) श्रम विधान एवं श्रम प्रशासन 1. श्रम विधान के सिद्धांत- श्रम विधान के प्रकार 2....

बिहार प्रभात समाचार : 30 नवम्बर 2020 AIR (Bihar News + Bihar Samachar + Bihar Current Affairs)

घर बैठे BPSC परीक्षा की तैयारी: https://definitebpsc.com/ Industrial Dispute in Hindi: https://www.youtube.com/watch?v=y3W56i3zkds हमारा Telegram चैनल - https://t.me/DefiniteBPSC हमारा फेसबुक पेज लाइक करिये - https://www.facebook.com/definitebpsc/ इन्टरनेट से किताबें यहाँ से लें - https://amzn.to/2JS0YJI केवल गंभीर परीक्षार्थियों के लिये. ध्यान से सुनिये और नोट्स बना लें. न्यूज़ को 3 से...