Home बिहार के अखबारों में पूरे बिहार में लागू होगा पश्चिम चंपारण का जीविका मॉडल

पूरे बिहार में लागू होगा पश्चिम चंपारण का जीविका मॉडल

0
पूरे बिहार में लागू होगा पश्चिम चंपारण का जीविका मॉडल

पश्चिम चंपारण का जीविका मॉडल पूरे बिहार में लागू होगा। इसकी घोषणा खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की है। सीएम पश्चिम चंपारण में समाधान यात्रा के दौरान वे जीविका दीदियों के साथ संवाद कर रहे थे। सीएम ने संवाद कर उनके कार्यों को जाना। समाहरणालय सभागार में करीब सवा घंटे तक जीविका दीदियों से संवाद में विभिन्न क्षेत्रों में उनकी ओर से की गई पहल एवं इसके परिणाम को समझा। इस दौरान बताया गया कि जिले के जीविका समूहों से जुड़ीं महिलाओं ने पशु सखी, बैंक सखी आदि में बेहतर काम किया गया है। दीदियों ने जिले में 54 कंपनियां बनाकर उसे निबंधित कराया है। इन कंपनियों द्वारा कृषि प्रोसेङ्क्षसग, बकरी पालन और बैंङ्क्षकग आदि क्षेत्रों में काम किया जा रहा है। जिले में शराबबंदी, दहेज प्रथा उन्मूलन, बाल विवाह जैसी सामाजिक कुरीतियों को दूर कराने में भी जीविका दीदियों ने बेहतर काम किया है। स्वालंबन से उनकी सामाजिक व आर्थिक स्थिति में बदलाव आया है। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले में जीविका समूहों की पहल अच्छी है। इसे पूरे राज्य में लागू किया जाएगा। संवाद कार्यक्रम में जिले के नौतन, मझौलिया, चनपटिया, बैरिया सहित आधा दर्जन प्रखंडों की 50 से अधिक जीविका दीदियां शामिल हुईं। संवाद कर निकलीं जीविका दीदी राधिका देवी ने बताया कि सीएम ने शराबबंदी के बारे में जानकारी ली। उन्होंने सभी जीविका दीदियों से पूछा कि शराबबंदी कैसी है? वहीं पक्की गली-नाली, नल का जल समेत विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वय के बारे में पूछा। सीता देवी ने कहा कि सीएम से संवाद करने का मौका मिला, मेरे लिए यह सौभाग्य की बात है।

घूम-घूम कर गांव के विकास की तस्वीर निहारते रहे सीएम

मुख्यमंत्री गुरुवार सुबह 10:37 बजे दरुआबारी गांव के दलदलिया पोखर पहुंचे। जिले के प्रभारी मंत्री ललित यादव व वाल्मीकिनगर के विधायक धीरेंद्र प्रताप ङ्क्षसह उर्फ ङ्क्षरकू ङ्क्षसह ने बुके देकर उनका स्वागत किया। मुख्यमंत्री (सीएम) ने तालाब पर कराए गए सौंदर्यीकरण कार्य का जायजा लिया। अधिकारियों व मीडियाकर्मियों से कहा कि जल-जीवन-हरियाली अभियान का शुभारंभ इसी चंपारण की धरती से हुआ। आज यह सूबे की पहचान है। सीएम ने तालाब में मछलियां छोड़कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। तालाब के पश्चिमी सिरे पर सामुदायिक भवन व वर्कशेड निर्माण कार्य की आधारशिला रखी। साथ चल रहे संसदीय कार्य व राजस्व मंत्री विजय चौधरी तथा जल संसाधन व सूचना प्रसारण मंत्री संजय झा के साथ गांव का रुख किया। गांव की गलियों में कराए गए पक्कीकरण कार्य, हर घर नल से जल की आपूर्ति, स्ट्रीट लाइट आदि का जायजा लिया। गांव के बीचोंबीच जीविका समूह के स्टाल का निरीक्षण किया। तदुपरांत संगती जीविका समूह की सदस्यों ने विकास की कहानी सीएम को सुनाई।

Source link

viagra kullananlar